लॉकडाउन में पकड़े गए दो कारोबारी; महिला बोली दो वक्त की रोटी के लिए शुरू किया यह बिजनेस

राजघाट थाना प्रभारी ने अवैध कच्ची शराब के दो बड़े कारोबारियों को गिरफ्तार कर भारी मात्रा में शराब बनाने के उपकरण और लहन बरामद किए 

गोरखपुर/ यूपी में अवैध कच्ची शराब से हुई दो मौतों के बाद गोरखपुर पुलिस लगातार अवैध कच्ची शराब के खिलाफ ताबड़तोड़ कार्रवाई कर रही है वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुनील गुप्ता के आदेश पर व पुलिस अधीक्षक नगर डॉक्टर कौस्तुभ और क्षेत्राधिकारी कोतवाली वी०पी सिंह के निर्देश पर राजघाट थाना प्रभारी राजेश कुमार पांडेय ने अपनी टीम के साथ थाना क्षेत्र के अमरूतानी बगीचे में पहुंचकर निष्क्रिय पड़ी कई दर्जन भट्टियों को तोड़ा साथ ही भारी मात्रा में लहर नष्ट किया मुखबिर की सूचना पर थाना क्षेत्र के हार्बट बंधे से एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया जो पीठ पर एक प्लास्टिक की बोरी लेकर आ रहा था। बोरी खोलकर देखा तो उसने प्लास्टिक के कई छोटे-छोटे पाउचों में अवैध कच्ची शराब लगभग 50 लीटर बरामद की गई।

काम धंधा बंद है इसलिए शुरू किया
पकड़े गए व्यक्ति का कहना है कि लॉकडाउन में काम धंधा बंद हो जाने के कारण हम इस अवैध कच्ची शराब के धंधे में लिप्त हो गए। उसकी निशानदेही पर चकरा अव्वल की रहने वाली एक महिला के घर तलाशी की गई और  बेसमेंट मे बने एक कमरे का ताला खोलकर देखा गया तो प्लास्टिक की बोरी कंपनी सील पैक व सोडियम कार्बोनेट, एक अन्य सील पैक बोरी जिस पर अमोनियम सल्फेट,तीन प्लास्टिक की बोरी में महुआ, नौसादर और एक इलेक्ट्रॉनिक तराजू बरामद की गई।

कच्ची शराब बनाती थी महिला
थाना प्रभारी राजघाट राजेश कुमार पांडेय ने बताया कि अवैध कच्ची शराब बनाते और बेचते थे यह दोनों लोग पकड़े गए दोनों आरोपियों जिसमे एक महिला और एक पुरुष है उनको सम्बंधित धराओं में मुकदमा पंजीकृत जेल भेज दिया गया और थाना प्रभारी का कहना है की कारोबारियों के खिलाफ आगे भी जारी रहेगा अभियान। 

Comments