सीएम योगी आदित्यनाथ ने अपने शहर को स्मार्ट सिटी के रूप में विकसित करने क...



प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दो दिवसीय दौरे पर गोरखपुर में हैं। इस दौरान उन्होंने मदन मोहन मालवीय प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय गोरखपुर में संचालित विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण किया।



इस दौरान शिक्षकों और विद्यार्थियों से मुखातिब होते हुए बोले कि किसी भी व्यक्ति और संस्थान के लिए भविष्य के लक्ष्यों को प्राप्त करने हेतु मानकों को निर्धारित करना हो तो यह जानना महत्वपूर्ण होता है कि उनके मूल्य और आदर्श क्या हैं.. उनकी प्रेरणा के स्रोत क्या हैं।



उन्होंने ने कहा कि ये विश्वविद्यालय एक ऐसे महामनीषी के नाम पर है, जिन्होंने एक ऐसे संस्थान की स्थापना का सपना, देश की सांस्कृतिक राजधानी के रूप में पहचान रखने वाली काशी में देखा था।

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय इसी सोच की उपज थी और जीवन का कोई ऐसा क्षेत्र नहीं जहां काशी हिन्दू विश्वविद्यालय ने अपने लक्ष्य को प्राप्त न किया हो। जिस मनीषी ने देश की आजादी के पहले ही काशी जैसे विश्वविद्यालय की नींव रखी उसी मनीषी के नाम पर इस विश्वविद्यालय का नामकरण इस संस्थान से जुड़े हुए प्रत्येक छात्र और शिक्षक के लिए आदर्श और प्रेरणा का एक केंद्र बन कर उभरता है।



उन्होंने आगे कहा कि भारत के मूल्यों और आदर्शों की मजबूत नींव पर हम देश को एक ऐसे शिक्षा के केंद्र के रूप में विकसित करें जो भारत के नागरिकों को योग्य नागरिकों के रूप में विकसित करने के साथ सभी क्षेत्रों में सक्षम बना सके। मुझे प्रसन्नता है कि 1857 की क्रांति के जिस महानायक ने देश में ब्रिटिश हुकूमत को हिलाने में बड़ी भूमिका का निर्वहन किया, ऐसे शहीद बंधु सिंह के नाम पर यहां स्टेडियम का नामकरण किया जा रहा है। इसके लिए मैं विश्वविद्यालय को हृदय से बधाई देता हूं।

Comments