गोरखपुर अपहरण और रेप की घटना के खुलासे पर कांग्रेस पार्टी ने उठाए सवाल




सनसनी खेज घटना के खुलासे को बताया फर्जी कहा आरोपी पुलिस को बचा कर व्यापारियों को फंसा रही है गोरखपुर की पुलिस
हम सरकार से मांग करते हैं कि इस घटना की जांच सीबीआई से कराई जाए ताकि सारी सच्चाई होगी जनता के सामने।


गोरखपुर/ विगत दिनों गोरखपुर ने हुए अपहरण और रेप की घटना के बाद पूरे प्रदेश की राजनीति को गर्म कर दिया।विपक्षी पार्टियों के लगातार विरोध व प्रदर्शन और सरकार के सख्त निर्देश पर गोरखपुर पुलिस ने घटना का अनावरण महज 36 घंटों में करके एक आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेजा लेकिन विपक्षी पार्टियां इस खुलासे पर सवाल उठाते हुए असली दोषियों को बचाकर व्यापारियों को फंसाने का आरोप पुलिस पर लगा रही है।गोरखपुर दौरे पर आए कांग्रेस पार्टी के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता तनुज पुनिया, प्रदेश महामंत्री आलोक प्रसाद,पूर्व सांसद व राष्टीय प्रवक्ता दलित समाज प्रकोष्ठ बृज खाबरि ने सयुक्त रूप से प्रेस वार्ता के दौरान बताया कि पूरे प्रदेश में महिला और बालिकाओं के साथ रेप जैसी घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है एक तरफ बीजेपी सरकार महिलाओं के सम्मान में बीजेपी मैदान में का नारा दे रही है वही दूसरी तरफ गोरखपुर में लड़की के साथ अपहरण और रेप जैसी घटना होती है।जिसके बाद गोरखपुर पुलिस घटना में शामिल पुलिसकर्मियों को बचा कर व्यापारी को गिरफ्तार कर मामले के खुलासे का दावा कर अपनी पीठ थपथपा रही है। लेकिन हम सरकार से मांग करते हैं कि इस घटना की जांच अगर सीबीआई से कराई जाए तो सारे तत्व खुलकर सामने आ जाएंगे इसके बाद निर्दोष जेल के बाहर और दोषी सलाखों के पीछे होंगे लेकिन बीजेपी सरकार केवल और केवल जातिवाद की राजनीति कर रही है।